1,005 views

देखिये कैसे मायावती बनी दलितों का नाम लेते लेते दौलत की देवी

नोटबंदी के बाद से ही इस फैसले को लेकर केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सबसे ज्यादा हमला करने वालों में मायावती ही रही हैं. सोमवार को भी उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके प्रधानमंत्री मोदी और केंद्र सरकार पर हमला बोला था. दलित नेता व् बहुजन समाज पार्टी की आका मायावती परवर्तन निदेशालय के लपेटे में चली गयी

ED ने जांच में पाया की नोटबंदी के ऐलान के तुरंत बाद मायावती के भाई के अकाउंट में 1 करोड़ 43 लाख जमा हुए, ED अब इस जमा किये गए राशि के श्रोतों की जांच कर रही है

मायावती के भाई आनंद कुमार का अकाउंट यूनियन बैंक, करोलबाग ब्रांच दिल्ली में है साथ ही मायावती की पार्टी यानि बहुजन समाज पार्टी के अकाउंट में नोटबंदी के बाद 117 करोड़ रुपए जमा किये गए है
जिनके डिटेल नीचे है, नोटबंदी के बाद से 9 दिसम्बर तक लगातार पैसे इन एकाउंट्स में जमा किये गए वो भी अलग अलग जगहों से ये तो केवल मायावती के भाई और पार्टी के अकाउंट की खबर है
सूत्रों के मुताबिक मायावती ने बड़े पैमाने पर गरीब लोगों के अकाउंट में पैसे जमा कराये हैं और ED इसकी पूरी जांच में भी जुट गयी है

 

आगे पढ़े पूरी खबर , आगे जाने अब आगे क्या होगा मायावती और उनके भाई पर 

loading...
loading...