देखिये बच्चा खोजने का नायाब तरीका, शेयर जरुर करें ताकि कोई इसका फायदा उठा सके

707
आज के समय में बच्चो का खोना आम हो गया है साथ ही हयूमन ट्रेफकिंग भी लगातार बढती जा रही है, जिसके तहत बच्चो को अगवा कर उन्हें बेचा जाता है, साथ ही कही कही उनके शारीरिक अंगो की तस्करी भी की जाती है… बच्चो का अपहरण करना आसान भी हिया और मासूमियत के कारण उनका घुमना भी आसान होता है’

बच्चों की तलाश के लिये सार्वजनिक स्थानों पर पोस्टर भी लगाये जाते हैं। मकसद सिर्फ एक होता है कि बस हमारा खोया हुआ बच्चा हमें वापिस मिल जाये।आये दिन बच्चों के खो जाने की खबरें आती रहती हैं। गुमशुदा बच्चों की तलाश के लिये विभिन्न प्रकार के विज्ञापन अखबारों और टीवी मे आपने देखे होंगे।

loading...

 ये एक ऐसी समस्या है जो सिर्फ इस देश में ही नही बल्कि विदेशों में भी आम है। हमारे पड़ोसी देश चीन में भी हर साल हजारों बच्चे गुम हो जाते हैं। इसलिये वहां कि एक कंपनी ने गुम हुये इन बच्चों को ढ़ूंढने का एक नायाब तरीका निकाला है।

अगले पेज पर देखिये अब तक कितने बच्चे मिल चुके है 

द लॉजिकलइंडियन के अनुसार चीन के शानडांग राज्य के किंगडाओ स्थित फूड कंपनी ने बाओबेईहुइजा वेबसाइट के साथ मिलकर एक अभियान शुरू किया है। जिसके तहत कंपनी ने पांच लाख मिनरल वाटर की बोतलें बाजार में निकाली हैं जिन पर खोये हुए बच्चों का फोटो सहित बायोडाटा प्रिंट किया है जिसमें पेरेंट्स का नाम और फोन नंबर भी होता है। एक बोतल पर अधिकतम छह बच्चों का बायोडाटा छापा गया है।

इन बोतलों को सुपरमार्केट, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट और अन्य सार्वजनिक स्थानों पर बेचा जा रहा है।आपको जानकर ख़ुशी होगी कि इस कंपनी की ऐसी पहल से अब तक 1700 से अधिक बच्चे अपने घरवालों के पास लौट आये हैं। एक मां का तो छ: साल से गुमशुदा बेटा मिल गया। इस सफलता से उत्साहित होकर करीब 32 हजार पेरेंट्स अब तक अपने बच्चों की तलाश के लिए कंपनी की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं। इस कंपनी को यह आइडिया न्यूयॉर्क के एक पिता द्वारा अपनाए गए तरीके से मिला। उसने 1979 में अपने छ: साल के बच्चे को खोजने के लिए दूध के पैकेट्स पर अपने बच्चे की तस्वीर छपवाकर शहर भर में बांटी थी।

loading...
loading...
SHARE