पाकिस्तान के जेल में बंद सैनिक ने पत्र में लिखा अपना दर्द जिसे पढ़ पूरा देश रो रहा

2360

पाकिस्तानी जेल में बंद 3 भारतीय जवानों में से के एक जवान ने अपने घर पर लिखे ख़त को जब भारतीय सरकार ने उसके घर भेजा तो सबकी ऑंखें नम हो गई, ये ख़त उस जवान का पांचवा ख़त था जो उसने पाकिस्तन के जेल में से लिखा है

loading...

भारत की जेल में इस वक़्त तीन जवान बंद है जिनके नाम संजय, जयचंद और रविशंकर जो इस समय काफी परेशान है और भारत आने की राह देख रहे है, उनमे से संजय कुरिल जो पढ़े लिखे हुए है जिसका फायदा भी उनको पाकिस्तान के जेल में मिल रहा है, जिसके लिए उन्हें उस जेल का मुंशी बनाया गया है..!! 15 अक्टूबर 2015 को ये तीनो जवान पाकिस्तानी सेना के हत्थे चढ़े थे तभी से ही वो पाकिस्तान के मलीर लांधी जेल में बंद है, जब गुरुवार को संजय के घर पत्र मिला तो उनके पिता रामप्रताप कुरिल जी ने लोगो को ये पत्र दिखाया…

तीनो जवानों ने नए साल में रिहाई की उमीद जताई है उनका कहना है की विदेश मंत्रालय से यदि फेक्स अत है तो उनकी रिहाई हो सकती है, संजय कुरिल ने पत्र में लिखते हुए कहा है की जिस जेल में बंद है उस जेल में उनके साथ भारत के 525 मछुवारे भी उनके साथ बंद है और 21 नवम्बर को पाक सैनिक भारतके और 43 लोगो को पकड़ लाये थे,

संजय ने अपनी पांचवी चिट्ठी में अपने बुरे हाल को छुपाते हुए लिखा है की माँ-बापू में यहाँ ठीक हूँ आप दोनों कैसे है और मेरा बीटा कैसा है..?? अपने गाँव के पड़ोसियों का हाल पूछते हुए कहा की में मजबूर हूँ आप लोगो की याद आती है लेकिन में क्या करूँ में नहीं आ सकता…

इस पत्र में लिखी हर लाइन पढ़कर आँखों में आंसू भर आते है, सभी भगवान से प्राथना करें की जल्द कार्यवाही हो तीनो जवान भारत में अपने परिवार के पास हो..!!

loading...
loading...
SHARE